हिन्दू मान्यता के अनुसार धन की देवी माँ लक्ष्मी को माना जाता है। और आप माँ लक्ष्मी को प्रसन्न कर लें तो आपके ऊपर धन की वर्षा भी हो सकती है पर माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए आपको हमारे बताए हुए 2 मंत्रो का जाप जरूर करना होगा वो भी पूरे विधि विधान के साथ जो हम आज आपको 2 मंत्र बताने जा रहे है यह दोनों ही मंत्र अचूक मंत्र मानें जाते है इन दोनों ही मंत्रो का असर बहूत जल्द ही कार्य करता है। और आप इसका जाप यदि नियमित रूप से करते रहेंगे तो यकीन मानिए आपके ऊपर जल्दी ही माँ लक्ष्मी की कृपा होगी, सबसे पहले हम आपको मंत्र बताते है।


पहला मंत्र..

ॐ ह्रीं श्रीं धनं देहि ॐ फट

दूसरा मंत्र…

श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्मयेै नमः

पूजा करने की विधि…

1. सुबह उठकर स्नान करें

2. लाल वस्त्र धारण करें

3. मंदिर में स्थापित माँ लक्ष्मी की तस्वीर पर कुमकुम का तिलक करें

4. माँ को तिलक लगाने के बाद फूल अर्पित करें

5. 1 घी का दीपक माँ के समक्ष जलाएं

6. एक लाल रंग के ऊनी आसन पर बैठकर मंत्र का जाप करें

7. आंखे बंद करके माता का ध्यान करें

8. माँ लक्ष्मी से गलतियों की क्षमा मांगते हुए उनसे रार्थना करनी है कि वह आपके घर मे वास करें

9. 11 दिनों तक रोजाना 21 बार मंत्र का जाप करें 

10. जल्द ही आपकी मनोकामना माँ लक्ष्मी पूरी करेंगी


क्या ना करें….
1. अगर आप माँ लक्ष्मी की आराधना कर रहे है तो शराब से रहे दूर

2. मांस मीट को छुए भी ना इससे दूरी बना लें

3. जाप करते समय कही और ध्यान न भटकाए सिर्फ और सिर्फ माँ का स्मरण करने में ध्यान लगाएं रखें

4. जाप करते समय स्वार्थमुक्त रहें धन के लालच में ना रहे इससे माँ नाराज़ हो जाती है

5. गलत भावना मन में ना रखें मन तन को शुद्ध रखें तभी धन की प्राप्ति होगी।

मंत्र का जाप करने से होंगे ये लाभ…
1. आपके ऊपर कभी भी दरिद्रता का साया नही आएगा

2. आप अपने दुशमनो से भी सदैव बचें रहेंगे 

3. धन की हानि नही होगी 

4. मनचाही इच्छा होगी पूरी माँ लक्ष्मी प्रसन्न रहेंगी

5. किसी भी कार्य मे विघ्न नही आएंगे सभी कार्य सम्पन्न होंगे

6. छप्पर फाड के धन की वर्षा होगी

7. खुशियां बनी रहेंगी 

8. माँ लक्ष्मी की सदैव कृपा बनी रहेगी

शुक्रवार या बुद्धवार से शुरू कर सकतें है शुरू

इन मंत्रो का जाप शुरू करना आप बुद्धवार या शुक्रवार से शुरू कर सकते है बस जो विधि बताई गई है उसे ध्यान में रखे हुए माँ की आराधना करें और जब तक आपकी मनोकामना पूर्ण ना हो तब तक आप इसे जारी रखें आपको बता दें यदि आपकी मनोकामना जल्द ही पूर्ण होजाए तो इन मंत्रो का जाप करना कभी छोड़े नही बल्कि इनको लगातार करते रहें पर ध्यान रहे लालच को त्याग कर ही इनका जाप करें नही तो माँ लक्ष्मी कभी प्रसन्न नही होंगी।


मंत्र छोटे है पर अचूक है।

इन दो मंत्रो को देख आपके मन में यह तो जरूर आया होगा कि यह दो मंत्रो के द्वारा माँ लक्ष्मी को किस प्रकार प्रसन्न किया जा सकता है तो आपको बता दें यह दो मंत्र दिखने में भले ही छोटे है लेकिम इन दोनों ही मंत्रो द्वारा माँ लक्ष्मी को सीधा प्रसन्न किया जा सकता है इन दोनों मंत्रो द्वारा ही आपकी मन की कामना सीधी माँ लक्ष्मी तक पहुँच जाएगी आप एक बार जरूर आज़मा के देखे माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए यह दोनो ही मंत्र प्रभावी है। कम समय में यह मंत्र आपके काम बना देगा।


मन मे माँ लक्ष्मी का रखें स्मरण

माँ लक्ष्मी को यदि प्रसन्न करना है तो सबसे पहले अपने मन के लालच को निकाल दें निस्वार्थ भाव से पूजा अर्चना में ध्यान लगाएं मन मे सिर्फ माँ लक्ष्मी का ही स्मरण रखें और माँ लक्ष्मी यदि प्रसन हो गईं तो आपको ज़िंदगी भर तक पैसों को किल्लत नही होगी माँ लक्ष्मी आपकी सारी दरिद्रता हर लेंगी